Contact Information

Sector 19, Noida, Uttar Pradesh

We Are Available 24/ 7. Call Now.

Fatehpur : अपराधियों के खिलाफ चलाये जा रहे ऑपरेशन पाताल अभियान के तहत जिले की पुलिस ताबड़तोड़ छापेमारी कर अवैध तमंचों की फैक्ट्री चलाने वालों पर शिकंजा कसे हुए है. अभियान के तहत जिले की पुलिस ने 24 घंटे के भीतर दूसरी अवैध असलहा फैक्ट्री का पर्दाफाश किया है. इस कार्रवाई में पुलिस ने बड़ी मात्रा में असलहे, कारतूसहथियार बनाने में प्रयुक्त होने वाले औजार बरामद कर एक तस्कर को गिरफ्तार किया है. जबकि, एक बदमाश पुलिस को चकमा देकर मौके से भागने में सफल हो गया. इस बात की जानकारी अपर पुलिस अधीक्षक ने बुधवार को पुलिस लाइन सभागार में पत्रकार वार्ता के दौरान दी.

मुखबिर की सूचना पर धर दबोचा

एएसपी राजेश कुमार (ASP Rajesh Kumar) ने बताया कि, बिंदकी थाना पुलिस प्रभारी निरीक्षक रवींद्र श्रीवास्तव (Ravindra Shrivastava) के नेतृत्व में पुलिस टीम के साथ क्षेत्र में अपराध पर नियंत्रण करने के लिए संदिग्ध व्यक्तियों की चेकिंग कर रहे थे. तभी जरिये मुखबिर सूचना मिली कि, अवैध तमंचों की तस्करी करनेवाला एक शातिर खजुहा कस्बे के निकट अमौली मोड़ पर खड़ा साधन का इंतज़ार कर रहा है.

असलहा तस्करी करने निकला था शातिर

अपर पुलिस अधीक्षक ने बताया कि, सूचना के आधार पर पहुंची पुलिस को देखकर शातिर भागने लगा, लेकिन पहले से मुश्तैद पुलिस टीन ने घेराबंदी कर उसे धर दबोचा. तलाशी के दौरान उसके कब्जे से चार 315 बोर के अवैध तमंचे और कारतूस बरामद हुए. पूँछ-तांछ में पुलिस की सख्ती के आगे सरेंडर अपराधी ने अवैध असलहा फैक्ट्री को संचालन करने में अपने एक सहयोगी रामू उर्फ रामबाबू पासवान निवासी अल्लीपुर बहेरा थाना सुल्तानपुर घोष को बताया था. निशानदेही पर एक बंद पड़े ईंट भट्ठे के पास पहुंची पुलिस को देख कर वहां मौजूद बदमाश रामू ने पुलिस टीम पर फायरिंग कर मौके से भाग खड़ा हुआ.

वहीं, सुनसान जगह पर खंडहर में पुलिस को 12 बोर के नौ असलहे व एक 32 बोर के रिवाल्वर के साथ असलहा बनाने के अन्य उपकरण भी मिले हैं. गिरफ्तार किए गए आरोपी ने फतेहपुर और रायबरेली के अलावा अन्य पड़ोसी जनपदों में असलहों की तस्करी करना कबूल किया है.

उन्होंने बताया कि, पकड़ा गया आरोपी पेशेवर अपराधी है. जिले समेत पड़ोसी जनपद रायबरेली में इसके खिलाफ एक दर्जन संगीन मामलों के मुकदमे दर्ज हैं.

एसपी ने दस हज़ार का दिया नगद पुरुस्कार

उन्होंने बताया कि, गिरफ्तार कर अवैध तमंचा फैक्ट्री का राजफाश करने वाली पुलिस टीम को एसपी राजेश कुमार सिंह ने दस हज़ार रुपये का नगद पुरुस्कार भी दिया है.

लेख – टीम वाच इंडिया नाउ

Share If You Liked

Leave a Reply

Your email address will not be published.