Contact Information

Sector 19, Noida, Uttar Pradesh

We Are Available 24/ 7. Call Now.

Fatehpur : फतेहपुर में सरकारी आवासों और शौचालयों के निर्माण में प्रधानों व सचिवों ने सारी हदें पार कर दी हैं. सांसद आदर्श गांव रामपुर में एक और चौंकाने वाला मामला सामने आया है. पूर्व प्रधान द्वारा अपात्र को आवंटित प्रधानमंत्री आवास में देशी शराब का ठेका संचालित किया जा रहा है. शिकायत पर पहुंची टीम को देखते हुए लाभार्थी फरार हो गया. विभाग ने आवास को सील कर रिकवरी संग आगे की कार्रवाई की प्रक्रिया शुरू कर दी है.

यह है पूरा मामला

विजयीपुर ब्लाक के मददअलीपुर मजरे रामपुर निवासी मउआ देवी पत्नी लक्ष्मी प्रसाद को वर्ष 2016-17 में प्रधानमंत्री आवास आवंटित किया गया था. आवास का निर्माण लाभार्थी ने मददअलीपुर चौराहे के पास कराया था. सूचना के अनुसार, लाभार्थी ने प्रधानमंत्री आवास को देशी शराब की दुकान के संचालक को किराए पर उठा दिया, जिसके बाद पिछले एक साल से उक्त आवास में अनुज्ञापी सावित्री देवी निवासी मुत्तौर फतेहपुर में शराब की दुकान संचालित है. गुरुवार को शौचालय पर कब्जे की शिकायत पर पहुंची ब्लाक स्तरीय टीम के सामने मामले की लोगों ने शिकायत की. टीम को ठेका संचालित मिला तो पूछतांछ में सेल्समैन ने बताया कि, तेरह सौ रुपये प्रतिमाह की दर से आवास में ठेका का संचालन किया जा रहा है.

यह आवास प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत बनाया गया है, इसकी जानकारी अभी नहीं थी. जेई आरईएस संजय श्रीवास्तव (JE RES Sanjay Shrivastava) ने लाभार्थी के पति को बुलाया लेकिन वह मौके से फरार हो गया. टीम ने आवास में अपना ताला लगाते हुए दुकान को बंद करा दिया. अवर अभियंता ने बताया पीएम (PM) आवास में सरकारी देसी शराब का संचालन पाया गया है जिसकी रिपोर्ट उच्च अधिकारियों को भेज दी गई है.

निराले हैं पूर्व प्रधान के खेल

रामपुर के पूर्व प्रधान के खेल उजागर हो रहे है. जांच टीम ने पाया कि, प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थी के पति के नाम करीब 20 बीघा खेती है. अपात्र होने के बावजूद योजना का लाभ कैसे मिले यह चौकाने वाला हैं. ग्राम पंचायत में इस तरह के कई मामलों के होने की आशंका पर विभाग ने जांच पड़ताल तेज हो गई है.

पीडी महेन्द्र प्रसाद चौबे (PD Mahendra Chaubey) का कहना है कि, प्रधानमंत्री आवास में शराब की दुकान का संचालन बेहद चिंता जनक और समाज विरोधी हैं. मामले की जांच कराकर प्रभावी कदम उठाते हुए रिकवरी के साथ विधिक कार्रवाई भी की जाएगी.

लेख – टीम वाच इंडिया नाउ

Share If You Liked

Leave a Reply

Your email address will not be published.