Contact Information

Sector 19, Noida, Uttar Pradesh

We Are Available 24/ 7. Call Now.

Fatehpur : फतेहपुर में धाता क्षेत्र पंचायत बोर्ड की बैठक में गुरुवार को जमकर हंगामा हुआ. ब्लाक प्रमुख को पत्रावली न देने और विभागों के जिम्मेदारों की नामौजूदी पर सदस्यों व बीडीओ के बीच कहासुनी हुई. जिसके बाद बीडीओ (BDO) ने सभी को जेल भिजवाने की धमकी देते हुए पुलिस को कॉल की. पुलिस ने बीडीसी (BDC) की मांग को जायज बताया तो बीडीओ बैठक छोड़ कर भाग गए.

जानकारी के मुताबिक, ब्लाक के सभागार में बोर्ड की बैठक में बीडीसी व प्रधानों की मौजूदगी में कोहराम शुरू हो गया. बताते है कि, ब्लाक प्रमुख ने बीडीओ से उपस्थिति रजिस्टर मांगने पर उन्होंने इनकार कर दिया. सदस्यों ने निंदा प्रस्ताव पेश करते हुए बीडीओ के रवैए की आलोचना की. सदस्यों ने स्वास्थ्य, शिक्षा, खाद्य आपूर्ति, बिजली समेत कई विभागों के जिम्मेदारों के बैठक में मौजूद नहीं होने पर नाराजगी जताई.

गुरसंडी प्रधान शैलेन्द्र (Shailendra) का आरोप था कि, क्षेत्र पंचायत से सड़क का निर्माण कराया है. महीनों बाद भी सड़क आधी अधूरी हैं. ऐसे में लोगों को दिक्कत का सामना करना पड़ेगा. बसवा प्रधान ने एक साल पहले कोटे की दुकान चयनित होने के बाद राशन आवंटन नहीं होने का मामला उठाया. सदस्यों ने प्रधानमंत्री आवास में धांधली का भी मुद्दा उठाया.

कहा कि, मुन्नाबाबूलाल के आवास के लिए आए पैसे को फर्जी तरीके से निकाल लिया गया है. जिस पर सदस्य हंगामा करने लगे. इस पर नाराज बीडीओ ने सभी को जेल भेजवाने की धमकी देते हुए एसओ धाता को कॉल की. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर लोगों को समझाकर शांत कराया.

एसओ (SO) ने कहा कि, बीडीसी बीडीओ के समक्ष अपनी बात नहीं रखेंगे तो कहां रखेंगे? इस दौरान बीडीओ बैठक से निकल गए. ब्लाक प्रमुख ने बताया कि, 2.50 करोड़़ रुपये खाते में डंप हैं, लेकिन जानबूझ कर बीडीओ के द्वारा विकास नहीं कराया जा रहा है.

लेख – टीम वाच इंडिया नाउ

Share If You Liked

Leave a Reply

Your email address will not be published.