Contact Information

Sector 19, Noida, Uttar Pradesh

We Are Available 24/ 7. Call Now.

Fatehpur : फतेहपुर के जिला अस्पताल से मरीजों व तीमारदारों से की गयी अभद्रता का वीडियो वायरल (Video Viral) होने से पूरे स्वास्थ्य विभाग में खलबली मच गयी. विवाद की शुरुआत तब हुयी जब जिला अस्पताल के इमरजेंसी कक्ष में घायल महिला के इलाज में बाहर का इंजेक्शन लगाने को लेकर ऑर्थो सर्जन डॉक्टर नितिन सिंह (Nitin Singh) और मरीज के तीमारदारों से झड़प हो गई थी. जिसमें चिकित्सक ने तीमारदार से अभद्र भाषा का प्रयोग किया. जिसका वीडियो भी इंटरनेट मीडिया में वायरल हो गया.

वायरल वीडियो को डिप्टी सीएम बृजेश पाठक (Deputy CM Brijesh Pathak) ने संज्ञान में लेते हुए सीएमओ (CMO) को 1 सप्ताह के भीतर निलंबन के प्रस्ताव उपलब्ध कराने के निर्देश दिए. इससे स्वास्थ्य महकमे में खलबली मची हुई है.

यह है पूरा मामला

हुसैनगंज क्षेत्र के निवासी पवन कुमार (Pawan Kumar) और उनकी पत्नी माया देवी (Maya Devi) को पिकअप ने टक्कर मार दी जिसमें पवन कुमार की मौत हो गई थी. घायल महिला को लेकर रिश्तेदार और तीमारदार जिला अस्पताल के इमरजेंसी कक्ष में पहुंचे बताते हैं कि, बाहर से मंगवा रहे थे और तीमारदार अस्पताल से ही दवाएं मांग रहे थे. इसी बात को लेकर दोनों में झड़प हो गई थी.

आपको बता दें कि, 23 जून को इमरजेंसी कक्ष में कार्यरत डॉ. राजेश साहू फार्मेसिस्ट राजकुमार स्टाफ नर्स बाय अंकुश गोपाल आदि ने सीएमओ को पत्र देकर स्पष्ट किया था कि, माया देवी घायल अवस्था में एंबुलेंस से अस्पताल आई थी. महिला का इलाज किया जा रहा था. लेकिन उसके तीमारदार सर्जन डॉक्टर और स्टाफ के साथ अभद्र भाषा का प्रयोग कर मारपीट करने का प्रयास किया गया जिससे सरकारी कार्य बाधित रहा और अन्य मरीजों को काफी असुविधा हुई.

मामले को लेकर सीएमओ सुनील भारती (CMO Sunil Bharti) ने कहा कि, महिला मरीज के तीमारदार और ऑर्थो सर्जन के बीच हुई कहासुनी का वीडियो संज्ञान में आया है. मामले की जांच की जा रही है. जांच के बाद कार्यवाही की जाएगी.

लेख – टीम वाच इंडिया नाउ

Share If You Liked

Leave a Reply

Your email address will not be published.