Contact Information

Sector 19, Noida, Uttar Pradesh

We Are Available 24/ 7. Call Now.

NTA ने बयान में कहा, ‘‘जेईई (JEE) के लिए परीक्षा केंद्रों की संख्या 570 से बढ़ाकर 660 की गई है जबकि नीट परीक्षा अब 2,546 केंद्रों के बजाय 3,843 केंद्रों पर होगी. जेईई (JEE) कंप्यूटर आधारित परीक्षा है जबकि नीट पारंपरिक तरीके से कलम और कागज पर होती है.” बयान में कहा गया, ‘‘इसके अलावा जेईई-मुख्य परीक्षा के लिए पालियों की संख्या आठ से बढ़ाकर 12 कर दी गई है और प्रत्येक पाली में विद्यार्थियों की संख्या अब 1.32 लाख से घटकर 85,000 हो गई है.”

सुप्रीम कोर्ट का हवाला
NTA ने इस नोटिस में सुप्रीम कोर्ट का हवाला देते हुए लिखा है कि ‘सुप्रीम कोर्ट ने कहा है नीट यूजी और जेईई मेन 2020 स्थगित करने की अपील का कोई वैध कारण समझ नहीं आता.’

एडमिट कार्ड की जानकारी
इस नोटिस में एनटीए ने कहा है कि जेईई मेन के एडमिट कार्ड जारी किए जा चुके हैं. नीट 2020 के एडमिट कार्ड भी जल्द ही जारी कर दिए जाएंगे. इसकी जानकारी एनटीए व नीट की वेबसाइट पर दे दी जाएगी.

एग्जाम सेंटर्स और अभ्यर्थियों की संख्या में बदलाव
एनटीए ने कहा है कि कोरोना महामारी (Covid-19) के मद्देनजर स्वास्थ्य सुरक्षा को लेकर सभी एहतियात बरते जा रहे हैं. जेईई मेन 2020 के लिए देशभर में परीक्षा केंद्रों की संख्या 570 से बढ़ाकर 660 कर दी गई है। वहीं, नीट के लिए परीक्षा केंद्रों की संख्या 2546 से बढ़ाकर 3843 कर दी गई है.

एनटीए ने कहा, ‘‘सामाजिक दूरी का अनुपालन सुनिश्चित करने के लिए जेईई-मुख्य परीक्षा (JEE Main Exam 2020) में छात्रों को परीक्षा कक्ष में एक सीट छोड़कर बैठाया जाएगा, जबकि नीट परीक्षा में एक कमरे में विद्यार्थियों की संख्या 24 से घटाकर 12 कर दी गई है.”

वहीं, परीक्षा कक्षा के बाहर सामाजिक दूरी का अनुपालन सुनश्चित करने के लिए उम्मीदवारों का विशेष प्रवेश एवं निकास होगा. गौरतलब है कि परीक्षार्थियों और उनके माता-पिता ने कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों की वजह से परीक्षा स्थगित करने की मांग की है.

Share If You Liked

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *