Contact Information

Sector 19, Noida, Uttar Pradesh

We Are Available 24/ 7. Call Now.

Fatehpur: बड़ौदा यूपी बैंक मुहल्ला कटरा अब्दुलगनी के तत्कालीन सहायक प्रबंधक पर 35 लाख रुपये के घोटाले का मुकदमा दर्ज किया गया है. मुख्य प्रबंधक ने पुलिस को दिए गए बयान में रिकॉर्डों में हेराफेरी करने का आरोप लगाया है. पुलिस ने बयान के आधार पर तहक़ीकात करनी शुरू कर दी है. बड़ौदा यूपी बैंक के मुख्य शाखा प्रबंधक राजेश गुप्ता (Rajesh gupta) ने सदर कोतवाली में जानकारी देते हुए बताया कि 16 जुलाई 2021 को तत्कालीन सहायक प्रबंधक अरविंद कुमार उपाध्याय (Arvind kumar upadhyay) ने अभिलेखों में हेराफेरी कर 35 लाख रुपये का गबन किया है. इसके बाद उनका ट्रांसफर सुल्तानपुर जिले में हो गया है. वह वर्तमान समय में सुल्तानपुर जिले के मथुरानगर की मुख्य शाखा में काम कर रहे हैं. शहर कोतवाल अनूप सिंह (Anoop singh) ने बताया कि शाखा प्रबंधक की तहरीर पर बैंक के तत्कालीन सहायक प्रबंधक अरविंद कुमार उपाध्याय (Arvind kumar upadhyay) पर घोटाले की रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है. जांच में पता चला है कि तत्कालीन सहायक प्रबंधक को आइसीआइसीआइ (ICICI) बैंक में 35 लाख रुपये जमा करने थे, लेकिन उन्होंने कैश जमा नहीं किया. इन सभी प्रकरणों की जांच चौकी प्रभारी रोडवेज को दे दी गई है.

स्वयं ही किया था वाउचर पास

मुख्य शाखा प्रबंधक राजेश गुप्ता (Rajesh gupta) ने बताया कि वह 12 जुलाई से 16 जुलाई 2021 तक अवकाश पर थे. इस बीच तत्कालीन सहायक प्रबंधक ने बैंक से 35 लाख रुपये की रकम नकद निकालकर स्वयं वाउचर बनाएं और पास भी किए. वाउचर के प्रथम पेज पर न तो किसी के हस्ताक्षर है और न इस धनराशि को आइसीआइसीआइ (ICICI) बैंक फतेहपुर में जमा करने की कोई रसीद है, जिससे यह अनुमान लगाया जा रहा है कि रुपये हड़प लिए गए है. बताया जा रहा है कि, आरोपित वर्ष 2018 से 17 जुलाई 2021 तक यहां कार्यरत थे. इसके बाद उनका ट्रांसफर हो गया. पुलिस ने पूरे मामले की निष्पक्ष जाँच करने की बात कही है.

लेख – टीम वाच इंडिया नाउ

(हैलो दोस्तों! हमारे WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Share If You Liked

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *