Contact Information

Sector 19, Noida, Uttar Pradesh

We Are Available 24/ 7. Call Now.

Fatehpur । जिले में बुखार रोगियों की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है. बुधवार को गौराकला गांव की एक महिला की जांच में डेंगू की पुष्टि हुई है. स्वास्थ्य विभाग ने कई गांवों में कैंप लगाकर 257 बुखार रोगी चिह्नित किए हैं. इसके साथ 17 नमूने डेंगू जांच के लिए कानपुर भेजे हैं.

हुसैनगंज प्रतिनिधि के अनुसार, भिटौरा ब्लाक के गौराकला गांव में रहने वाली महिला गीता देवी (38) को डेंगू (Dengue)की पुष्टि हुई है. भिटौरा PHC प्रभारी डॉ. विमल चौरसिया(Vimal Chaurasia) के निर्देश पर बुधवार को डॉ. अनुज मिश्रा(Anuj Mishra) ने स्वास्थ्य टीम के साथ गांव में बुखार के संदिग्ध मरीजों की जांच करके नमूने लिए. उधर, एडीओ पंचायत अशोक कुमार(Ashok Kumar) ने सफाई कर्मियों की टीम के साथ गौराकला में डटे रहे. नालियों में एंटीलार्वा का छिड़काव कराया गया.

स्वास्थ्य विभाग ने टिकहरा गांव में 16 बुखार(Fever) रोगियों का उपचार किया और पांच डेंगू के नमूने जांच के लिए भेजे. खजुहा ब्लाक के सरकंडी गांव में कैंप लगाकर 16 बुखार रोगियों का इलाज किया गया और तीन डेंगू के नमूने जांच के लिए भेजे. दतौली गांव में 105 बुखार रोगी चिह्नित किए गए और छह नमूने डेंगू जांच के लिए भेजे गए. चकशाह फरीदपुर में 103 बुखार रोगियों का इलाज किया गया. फुलवामऊ गांव में 17 बुखार रोगी चिह्नित कर डॉक्टरों ने इलाज किया. सीएमओ डॉ. राजेंद्र सिंह ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग बचाव में कोई कसर नहीं छोड़ रहा है. डेंगू के साथ अधिक बुखार रोगी वाले गांवों में भी निरोधात्मक कार्रवाई की जा रही है.

लेख – टीम वाच इंडिया नाउ

(हैलो दोस्तों! हमारे WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Share If You Liked

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *