Contact Information

Sector 19, Noida, Uttar Pradesh

We Are Available 24/ 7. Call Now.

Agra : लखीमपुरखीरी हत्या कांड को अभी कुछ ही दिन बीते थे कि, अब आगरा में हुई चोरी के शक में हिरासत में लिए गए सफाई कर्मचारी अरुण की पुलिस हिरासत में मौत को लेकर यूपी में एक बार सियासी माहौल गरमा गया है. मृत अरुण के स्वजन से मुलाकाल करने आगरा जा रहीं कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka gandhi vadra) को पुलिस ने लखनऊ आगरा एक्सप्रेस-वे पर रोक दिया है. इस दौरान पुलिस के साथ कांग्रेस कार्यकर्ताओं की झड़प भी हो गई. फिर भी वह आगरा जाने की जिद पर अड़ी रहीं तो लखनऊ पुलिस ने एक बार फिर उन्हें हिरासत में ले लिया.

आपको बता दें कि, लखनऊ में करीब एक घंटे तक चले ड्रामे के बाद प्रियंका को प्रशासन ने आगरा जाने की अनुमति दे दी है. प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि उनके साथ चार लोगों को आगरा जाने की इजाजत दी गई है. वह पुलिस हिरासत में मारे गए सफाई कर्मचारी के परिवार से मिलने आगरा जा रही है.

इससे पहले प्रियंका ने ट्ववीट भी किया. उन्होंने लिखा, ‘किसी को पुलिस कस्टडी में पीट-पीटकर मार देना कहां का न्याय है? आगरा पुलिस कस्टडी में अरुण वाल्मीकि की मौत की घटना निंदनीय है. भगवान वाल्मीकि जयंती के दिन उत्तर प्रदेश सरकार ने उनके संदेशों के खिलाफ काम किया है. इसकी उच्चस्तरीय जांच व पुलिस वालों पर कार्रवाई हो व पीड़ित परिवार को मुआवजा मिले.’

प्रियंका गांधी वाड्रा ने अपने दूसरे ट्वीट में कहा, ‘अरुण वाल्मीकि की मृत्यु पुलिस हिरासत में हुई. उनका परिवार न्याय मांग रहा है. मैं परिवार से मिलने जाना चाहती हूं. उत्तर प्रदेश सरकार को डर किस बात का है? क्यों मुझे रोका जा रहा है. आज भगवान वाल्मीकि जयंती है, पीएम ने महात्मा बुद्ध पर बड़ी- बड़ी बातें की, लेकिन उनके संदेशों पर हमला कर रहे हैं.’

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा और प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को फिलहाल आगरा में प्रवेश नहीं मिलेगा. आगरा के डीएम (DM) प्रभु एन सिंह (Prabhu N singh) ने शासन को भेजी रिपोर्ट. डीएम का कहना है कि सफाई कर्मचारी की मौत से जिस तरीके से हालात बदले हैं, उसे देखते हुए इन नेताओं को आगरा में प्रवेश नहीं दिया जाएगा. इनके आने से शहर की कानून व्यवस्था को खतरा पैदा हो सकता है. शांति होने पर नेताओं का शहर में स्वागत है. लखनऊ व नोएडा सहित अन्य डीएम को इससे अवगत करा दिया है

यह है पूरा मामला :

आगरा के जगदीशपुरा थाने के मालखाने में शनिवार रात को दरवाजे तोड़कर 25 लाख रुपये चोरी कर लिए गए थे. रविवार सुबह घटना की जानकारी होने के बाद इंस्पेक्टर अनूप कुमार तिवारी (Anoop kumar tiwari) समेत छह पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया था. मंगलवार को पुलिस ने सफाईकर्मी को ताजगंज क्षेत्र से पकड़ा था. उससे पूछताछ के बाद पुलिस ने दस लाख रुपये से अधिक बरामद कर लिए थे. इसके बाद और बरामदगी के लिए पूछताछ की जा रही थी. देर रात पुलिस हिरासत में सफाईकर्मी की हालत बिगड़ गई. इसके बाद पुलिस ने उसे हास्पिटल में भर्ती कराया. जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया.

Share If You Liked

Leave a Reply

Your email address will not be published.