Contact Information

Sector 19, Noida, Uttar Pradesh

We Are Available 24/ 7. Call Now.

Fatehpur : फतेहपुर में भाजपा प्रदेश अल्पसंख्यक मोर्चा के सह मीडिया प्रभारी फैजान रिजवी (Faijan rijwi) पर सपाइयों द्वारा हमला कर दिया गया. हमले की घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई. वहीं कार्यकर्ताओं के साथ सदर कोतवाली पहुंचे सदर भाजपा विधायक विक्रम सिंह (Vikram singh) कार्रवाई की मांग को लेकर धरने पर बैठ गए. देर शाम पुलिस ने नगरपालिका परिषद चेयरमैन के सभासद पुत्र और प्रतिनिधि समेत 25 लोगों पर डकैती व जानलेवा हमला करने का मुकदमा दर्ज कर लिया.

शहर के लाला बाजार निवासी फैजान रिजवी जिला अस्पताल के पास स्थित कब्रिस्तान गए थे. हमले पर जान बचाकर वह कार्यकर्ताओं के साथ सीधे कोतवाली पहुंचे और हमलावरों के खिलाफ तहरीर दी. फैजान का आरोप है कि चेयरमैन पुत्र अपने 15-20 अज्ञात साथियों और सरकारी व प्राइवेट गनर संग आए और मुख्यमंत्री पर अभद्र टिप्पणी की. विरोध पर लात-घूसों से पीटकर चाकू से जानलेवा हमला किया. जेब से 14 हजार 600 रुपये भी निकाल लिए. वह किसी तरह जान बचाकर वहाँ से भागे. विधायक विक्रम सिंह ने कहा कि हमले में हिस्ट्रीशीटर भी अपने गनर के साथ शामिल था जिसका पूरा कसाई गैंग है. उस पर भी कार्रवाई की जाए.

शहर कोतवाल अनूप सिंह (Anoop singh) ने बताया कि सीसीटीवी कैमरे की फुटेज देखकर चेयरमैन के सभासद पुत्र हाजी रजा, राहत निवासी पनी, शमशाद निवासी मसवानी, प्राइवेट नगर जुनैद निवासी खलीलनगर, गुलाम राइन निवासी तुराब अली का पुरवा व 15-20 अज्ञात पर डकैती, दंगा फैलाने व जानलेवा हमला करने पर मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैैं.

मारपीट का सीसीटीवी फुटेज

इधर आरोपित हाजी रजा (Hazi rja) ने कहा कि उनके प्राइवेट गनर मो. जुनैद (Mo. Junaid) की रिश्तेदार कहीं जा रही थी. फैजान ने साथियों के साथ मिलकर उससे अभद्रता की. शिकायत पर प्राइवेट गनर पहुंचा और उसे पीटने लगे. खबर मिलने पर वह बीच-बचाव में गए तो फैजान ने अपशब्द कहकर मारपीट का प्रयास किया. राजनीतिक द्वेष से अनर्गल आरोप लगाए जा रहे हैं और जिसने अभद्रता की, उसे सत्ता के इशारे पर बचाया जा रहा है.

गनर को किया गया निलंबित, होगी गुंडाएक्ट की कार्रवाई

एसपी (SP) राजेश कुमार सिंह (Rajesh kumar singh) ने बताया कि दिनदहाड़े अराजकता फैलाकर मारपीट करने वालों पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. हमलावरों पर गुंडाएक्ट के तहत कार्रवाई कर उनकी गिरफ्तारी की जाएगी. सरकारी गनर कांस्टेबल जितेंद्र यादव (Jitendra yadav) नगरपालिका परिषद की चेयरमैन को दिया गया है लेकिन चेयरमैन प्रतिनिधि के साथ गनर था और हो रही मारपीट में बीच बचाव भी नहीं कर रहा था इसलिए गनर को निलंबित कर दिया गया है.

सदर नगर पालिका के चेयरमैन के पुत्र और समर्थकों के द्वारा भाजपा के अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेश पदाधिकारी फैजान रिजवी के मध्य हुई मारपीट के बाद देर रात पालिका लिपिक को पुलिस द्वारा पीटे जाने का आरोप लगा है. सोमवार की देर रात लिपिक मोहम्मद आकिब (Mo. Aakib) को जिला अस्पताल के ट्रामा सेंटर लाया गया तो भीड़ जुट गई. चेयरमैन नजाकत खातून (Nazakat khatoon) के बेटे और प्रतिनिधि हाजी रजा ने बताया कि वह लिपिक की मां से सरकारी काम में हस्ताक्षर करवाने के लिए पनी मुहल्ला स्थित आवास जा रहा था. तभी सदर विधायक के इशारे पर लिपिक को पुलिसवालों ने रास्ते पर रोका और पिटाई कर दी. सूचना पर पहुंचे तो लिपिक बेहोशी हालत में मिला. जिसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है. लिपिक की पिटाई के चलते नगर पालिका कर्मचारियों ने मंगलवार को हड़ताल करने की घोषणा कर दी है

लेख – टीम वाच इंडिया नाउ

.

Share If You Liked

Leave a Reply

Your email address will not be published.