Contact Information

Sector 19, Noida, Uttar Pradesh

We Are Available 24/ 7. Call Now.

Gaziabad : पिछले दिनों नेटफ्लिक्स पर बीते दिनों रिलीज हुई हसीन दिलरुबा तो आपने देखी ही होगी. इसी तर्ज पर हत्यारोपित ने सजा से बचने को एक कामगार की हत्या कर दी और फिर उसका चेहरा जला दिया. गाजियाबाद पुलिस के शव को बरामद करने पर साजिश में शामिल आरोपित की पत्नी पहुंची और इसे अपने पति का शव बताया. महिला ने शव का अपने पति के रूप में अंतिम संस्कार भी कर दिया, लेकिन पुलिस को कद काठी के कारण पहले से ही शक था. छानबीन कर पुलिस ने आरोपित सुदेश कुमार (Sudesh kumar) और उसकी पत्नी अनुपमा (Anupama) को गिरफ्तार कर लिया है. दोनों करावलनगर के शिव विहार में गली संख्या चार में रहते हैं.

एसपी (SP) ग्रामीण डा. ईरज राजा (Dr. Iraz raja) ने बताया कि मार्च 2018 में अपनी 13 साल की बेटी की हत्या कर दी थी, क्योंकि वह एक किशोर के साथ चली गई थी. करावलनगर थाना पुलिस ने सुदेश को बेटी की हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर जेल भेजा था. दिल्ली की मंडोली जेल से सुदेश को 21 मई 2021 को अंतरिम जमानत मिली थी. बेटी की हत्या के आरोप में सजा सुनाई जानी थी. इससे बचने के लिए सुदेश ने साजिश रची कि किसी और की हत्या कर शव की पहचान मिटा देंगे. पत्नी शव की पहचान सुदेश के रूप में करेगी, जिसके बाद दोनों अपना मकान बेचकर बेटे के साथ दिल्ली छोड़ देंगे.

साजिश के तहत सुदेश करावल नगर चौपला से डोमन रविदास (Ravidas) नाम के कामगार को लेकर आया. 19 नवंबर की रात काम कराने के बाद शाम को घर पर ही शराब पिलाई. नशे में होने के बाद सुदेश और उसकी पत्नी अनुपमा ने चारपाई के पाए से सिर में मार कर रविदास की हत्या कर दी. इसके बाद सुरेश रविदास के शव को साइकिल से लोनी बार्डर की इंद्रापुरी कालोनी में खाली प्लाट में डालकर चेहरा जला दिया.

ऐसे हुआ शक

शव की पहचान छिपाने को रविदास का चेहरा जला दिया गया था लेकिन सब की पहचान सुदेश के रूप में कराने के लिए उसका आधार कार्ड रविदास की पेंट की जेब में रख दिया था. इसी से पुलिस को शक हुआ. पहचान छिपानी थी तो आधार कार्ड क्यों नहीं निकाला गया. पहले से तय योजना के मुताबिक 10 दिसंबर की रात 11 बजे सुदेश करावलनगर स्थित मकान पर लौटने वाला था. पत्नी से कहा था कि घर की लाइट जलाकर रखना यदि सब कुछ ठीक हो तो गेट पर सफेद कपड़ा डाल देना. पुलिस पहले से आरोपित की तलाश में उसके घर पहुंच गई और लाइट जलाकर गेट पर सफेद कपड़ा डाल दिया. सुदेश के पहुंचते ही पुलिस ने आरोपित व उसकी पत्नी को दबोच लिया.

लेख – टीम वाच इंडिया नाउ

Share If You Liked

Leave a Reply

Your email address will not be published.