Contact Information

Sector 19, Noida, Uttar Pradesh

We Are Available 24/ 7. Call Now.

Fatehpur : रविवार को धूप निकली, लेकिन सर्दी का सितम कम नहीं हुआ. न्यूनतम पारा पांच डिग्री तो वहीं अधिकतम तापमान 18 डिग्री सेल्सियस रहा. शाम होते ही गलन बढ़ गई और देखते ही देखते रैन बसेरों और आग के पास लोगों की भीड़ जुट गई. वहीं, बस और ट्रेन से उतरी सवारियों के चेहरे सर्दी से सुर्ख लाल नजर आए.

उधर, जिलाधिकारी (DM) ने व्यवस्था को दुरुस्त रखने के आदेश विभागीय अफसरों को दिए हैं, जिससे किसी प्रकार की परेशान न हो.

जगह-जगह जलवाए गए अलाव

सदर पालिका की ओर से रेलवे स्टेशन, बस स्टाप और जिला अस्पताल में रैन बसेरा संचालित किया जा रहा है. इनमें क्रमश: 20, 8 और 10 लोगों ने रात गुजारी. रैन बसेरा के सामने अलाव में रुकने वालों के अलावा अन्य लोग भी सर्दी भगाते नजर आए. अधिशासी अधिकारी मीरा सिंह (Meera singh) ने बताया कि साउथ सिटी को मिलाकर 28 स्थानों में अलाव जलवाए गए हैं. बिदकी नगर पालिका द्वारा संचालित बरातशाला में संचालित रैन बसेरे में एक व्यक्ति ही मिला.
अधिशासी अधिकारी निरुपमा प्रताप (Nirupma pratap) ने बताया कि 11 स्थानों में अलाव जलवाए गए हैं. खागा नगर पंचायत द्वारा दस स्थानों में अलाव जलवाए गए हैं. जीटी रोड हाईवे में संचालित रैन बसेरे में चार दिनों से एक भी यात्री नहीं रुका है.

नगर पंचायतों के रैन बसेरे रहे खाली

किशुनपुर नगर पंचायत के रैन बसेरा में अभी तक एक भी यात्री नहीं रुका है. दो स्थानों पर अलाव जलवाए गए है. हथगाम नगर पंचायत में रैन बसेरा में अभी तक कोई नहीं रुका है जबकि 10 स्थानों में अलाव जलवाए गए हैं. बहुआ नगर पंचायत में कैंपस के अंदर संचालित रैन बसेरे में ताला जड़ा हुआ नजर आया. अलाव नगर में कहीं जलते हुए नहीं दिखे. नव सृजित नगर पंचायत असोथर के द्वारा प्रेममऊ में खोला गया रैन बसेरा ताले में जड़ा दिखा. अलाव कहीं जलते हुए नहीं दिखाई दिए. जहानाबाद का रैन बसेरा तालों में जकड़ा रहा और अलाव की व्यवस्था नहीं रही है.

सर्दी से ठिठुरे यात्री, यात्रा हुई कष्टकारी

गिरते हुए पारे के चलते यात्रा कष्टकारी साबित हो रही है. बस और ट्रेनों से उतरने वाले यात्री गर्म कपड़ों से लैस दिखते हैं लेकिन उनके तन कांपते हुए नजर आ रहे हैं. सर्दी दूर करने के लिए रेलवे और बस स्टेशन के बाहर निकलते ही गर्मागर्म चाय की प्याली का जुगाड़ करते हुए दिख जाते हैं. बसों में यात्रा खासी कष्टकारी साबित हो रही है.

साप्ताहिक अवकाश का लिया आनंद

तेज धूप के साथ पड़ रही कड़ाके की सर्दी के चलते लोग छतों पर दिखे. दैनिक कामों से निवृत्त होने के बाद लोग परिवार के साथ छतों में धूप लेते नजर आए. रविवार का अवकाश होने के चलते सरकारी मुलाजिम धूप में परिवार के साथ धूप का लुत्फ उठाते हुए मूंगफली और गुड़ से बनी खाद्य वस्तुओं का सेवन करते दिखे.

बीते साल की तुलना में जल्द पड़ने लगी सर्दी

रविवार को पारा न्यूनतम पांच और अधिकतम 21 डिग्री सेल्सियस रहा है. बीते साल पर गौर करें तो यह तापमान क्रमश: 26 और 14 डिग्री सेल्सियस रहा है. कड़ाके की सर्दी का अहसास कर रहे लोगों का कहना था कि इस बार सर्दी जल्दी पड़ने लगी है. बीते सालों में नए वर्ष के आने की प्रतीक्षा में गुजारे जाने वाले समय में कोहरा और धुंध तथा बरसात के चलते सर्दी पड़ती रही है. इस बार बिना बरसात के सर्दी पड़ रही है.

लेख – टीम वाच इंडिया नाउ

Share If You Liked

Leave a Reply

Your email address will not be published.