Contact Information

Sector 19, Noida, Uttar Pradesh

We Are Available 24/ 7. Call Now.

Fatehpur : नई बस्ती राधानगर में हत्यायुक्त डकैती प्रकरण में गश्ती (पहरा) न करने की लापरवाही सामने आई. एसपी (SP) ने चौकी प्रभारी समेत चार पुलिस कर्मियों पर निलंबन की गाज गिरा दी है. बीट सिपाही सुनील यादव (Sunil yadav), कोबरा सिपाहियों पंकज कुमार (Pankaj kumar) व सचिन (Sachin) को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर सीओ सिटी दिनेशचंद्र मिश्र (CO city Dinesh chandra mishr) को जांच दे दी गई है जबकि चौकी प्रभारी राजेश कुमार सिंह (Rajesh kumar singh) के निलंबन की संस्तुति पुलिस महानिरीक्षक प्रयागराज से की है.

उधर सीसीटीवी कैमरे में घटना की रेकी करने में दिखे संदिग्ध व्यक्ति की दूसरे दिन भी पहचान नहीं हो सकी.

रात गश्ती (पहरा) के बजाए राधानगर चौकी पुलिस ट्रकों से वसूली करने में मस्त रहती है. जिसकी मोहल्लेवासियों में खूब चर्चा रही. बताते हैं कि जिस वक्त नई बस्ती में दिवंगत रिटायर्ड शिक्षक बलवीर सिंह (Balveer singh) समेत तीन घरों में ताबड़तोड़ लाखों की लूटपाट हो रही थी, उस समय कोबरा के दो व एक बीट सिपाही नाइट ड्यूटी से नदारत थे.

इसी लापरवाही में चौकी प्रभारी समेत उक्त चारों पुलिस कर्मियों पर निलंबन की कार्रवाई की गई. एसपी (SP) राजेश कुमार सिंह (Rajesh kumar singh) ने बताया कि उक्त तीन पुलिस कर्मियों को निलंबित कर चौकी प्रभारी के निलंबन की संस्तुति के लिए आईजी (IG) को पत्र भेजा गया है.

पकड़े गए 16 संदिग्धों में काला कौवा भी शामिल

शहर क्षेत्र के राधानगर चौकी के आस पास के मोहल्ले, काशीराम आवासीय कालोनी, बिनोवानगर आदि जगहों से रात भर में 16 संदिग्धों को पूछताछ के लिए उठाया. इनमें कुछ शातिर जेल से जमानत पर छूटकर आए है. किसी ने सीसीटीवी कैमरे में घटना की रेकी करने में दिखे संदिग्ध को नहीं पहचाना. राधानगर चौकी प्रभारी राजेश कुमार सिंह ने बताया कि पकड़े गए शातिरों में एक काला कौवा भी शामिल है.

दो घरों में हुई वारदात की नहीं हुई रिपोर्ट

दिवंगत रिटायर्ड शिक्षक के पड़ोसी लक्ष्मी गुप्ता व महावीर लोधी के घरों में हुई नकदी व जेवरात की चोरी की रिपोर्ट पुलिस ने नहीं दर्ज की. बताया जा रहा हैं कि लक्ष्मी गुप्ता की बेटी शिवानी ने सदर कोतवाली में घटना की तहरीर भी दे रखी है जबकि महावीर ने भी चौकी में घटना का प्रार्थना पत्र दिया है. इसके बाद भी पुलिस कुछ भी बताने में अनभिज्ञता जताती रही.

सिर में बाईं ओर एक ही बार हुआ था प्रहार

रिटायर्ड शिक्षक के घर में पड़ोसी की छत से चढ़े डकैतों ने बड़े बेटे सुजीत के कमरे के बाहर कुंडी लगाकर नीचे उतरे थे. पहचान जाने के डर से बदमाशों ने रिटायर्ड शिक्षक के सिर के बाईं ओर सीमेंटेड ईंट से जोर प्रहार किया था जिससे उनकी मौत हो गई थी. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में चिकित्सकीय टीम ने किसी वजनी वस्तु से एक ही प्रहार स्पष्ट किया है.

रिटायर्ड शिक्षक के शव का अंतिम संस्कार

रविवार को शाम पोस्टमार्टम होने के बाद रिटायर्ड शिक्षक बलवीर सिंह के शव का भिटौरा घाट में अंतिम संस्कार किया गया. बेटा सुजीत सिंह ने प्रशासन से मांग किया कि पिता के हत्यारों का जल्द पता लगाया जाए.

लेख – टीम वाच इंडिया नाउ

Share If You Liked

Leave a Reply

Your email address will not be published.