Contact Information

Sector 19, Noida, Uttar Pradesh

We Are Available 24/ 7. Call Now.

Kite Flying License : क्या आप जानते हैं कि पतंग उड़ाना आपके लिए भारी पड़ सकता है. जी हां, भारत के कानून के अनुसार पतंग उड़ाना कानूनी अपराध है. जी हाँ, सुनने में यह आपको बड़ा ही हास्यप्रद लगेगा पर यह पूरी तरह से सच है. भारत में इंडियन एयरक्राफ्ट (Indian Aircraft) कानून के अनुसार, पतंग उड़ाना गैर-कानूनी माना गया है. मनमर्जी के अनुसार पतंग उड़ाना आपको सलाखों के पीछे भी पहुंचा सकता है.

इतना ही नहीं पतंग उड़ाने के कारण आपको लाखों का जुर्माना भी भरना पड़ सकता है.पूरे देश में अलग-अलग तरीके से मकर संक्रांति का त्यौहार मनाया जाएगा. कई शहरों में मकर सक्रांति के दिन पतंग भी उड़ाई जाती है लेकिन पतंग उड़ाना मना है. यहाँ तक की मकर संक्रांति के दिन भी इसकी छूट नहीं है. क्योंकि, देश में पतंग उड़ाना गैर-कानूनी है.

इस कानून पर उठते रहे हैं सवाल

पतंग उड़ाने को लेकर काफी विवाद होते रहते हैं, क्योंकि पतंग की वजह से कई लोगों को जान चली जाती है और कई लोग घायल हो जाते हैं. वहीं, पक्षियों को भी इससे काफी नुकसान होता है. यह अविश्वसनीय लगता है कि इस तरह के एक सामान्य शौक को पूरा करने के चक्कर में आप कानून तोड़ रहे होते हैं
जिसका परिणाम जेल की सजा हो सकती है और भारी-भरकम जुर्माना भी.

ऐसे कानून के पीछे क्या तर्क हो सकता है और क्या इस कानून का कोई औचित्य है. ऐसे में सवाल उठता है कि कानून को क्यों बरकरार रखा गया है. इस कानून को बदला क्यों नहीं गया है. हालांकि, कानून के प्रावधान विभिन्न क्षेत्रों के अनुसार अलग-अलग हो सकते हैं.

क्या कहता है भारत का कानून?

भारत में इंडियन एयरक्राफ्ट कानून के अनुसार, पतंग उड़ाना गैर-कानूनी माना गया है. अगर आप पतंग उड़ाना भी चाहते हैं तो आपको पतंग उड़ाने से पहले इसकी परमिशन लेनी होगी. दिल्ली हाईकोर्ट के सीनियर एडवोकेट प्रेम जोशी (Prem Joshi) ने बताया, ‘एयरक्राफ्ट एक्ट 1934 (Aircraft Act 1934) के सेक्शन 11 (Section 11) के अनुसार गलत तरीके से एयरक्राफ्ट उड़ाने पर 10 लाख रुपये तक का जुर्माना हो सकता है. वहीं, इस कानून को 2008 में संशोधित कर दिया गया था. इससे पहले इस एक्ट में सजा का प्रावधान 6 महीने की जेल और 10 हजार रुपये का जुर्माना था. जिसे अब बढ़ा दिया गया है.

हालांकि, पतंगबाजी के शौकीन लोगों के लिए लाइसेंस (Licence) का प्रावधान भी किया गया है. इस लाइसेंस के प्राप्त होने पर पतंग उड़ाने की अनुमति है.

दूसरे देशों में इसके लिए क्या है कानून?

भारत में भले ही कोई कानून बना हो, लेकिन काफी पतंग उड़ाई जाती है. वैसे कई देशों में पतंग उड़ाने की ऊंचाई पर नियम बना रखे हैं. ऐसे में आप निश्चित दूरी तक ही पतंग उड़ा सकते हैं. कई देशों ने 150 तो कई देशों ने तो 250 मीटर तक इसकी ऊंचाई तय कर रखी है.

पतंग उड़ाने का लाइसेंस कैसे प्राप्त करें?

भारतीय कानून के अनुसार, देश में पतंग उड़ाने के लिए आपको एक विशेष लाइसेंस प्राप्त करना होता है. इसे लेकर थोड़ी उलझन है. क्योंकि कुछ राज्यों और शहरों में लाइसेंस स्थानीय पुलिस थाने से प्राप्त किया जा सकता है तो कुछ जगह केवल भारतीय नागरिक उड्डयन प्राधिकरण से प्राप्त किया जा सकता है. देश में जब भी कोई बड़े स्तर पर पतंग महोत्सव, बैलून फेस्टिवल, हॉट एयर बैलून फेस्टिवल और ग्लाइडर उड़ाने से जुड़े कार्यक्रम होते हैं तो इसके लिए स्थानीय पुलिस थाने, प्रशासन और भारतीय नागरिक उड्डयन प्राधिकरण से भी अनुमति लेनी होती है.

लेख – टीम वाच इंडिया नाउ

Share If You Liked

Leave a Reply

Your email address will not be published.