Contact Information

Sector 19, Noida, Uttar Pradesh

We Are Available 24/ 7. Call Now.

रक्षा बंधन (Rakshabandhan) इस साल अगस्त महीने की 3 तारीख को मनाया जाएगा. इस त्यौहार को मनाने का महत्व ये है कि बहन अपने भाई की कलाई पर रक्षा सूत्र बांध कर अपना प्रेम व्यक्त करती है और भाई उसकी रक्षा का वचन देकर. लेकिन इस साल रक्षा बंधन को कोरोना वायरस (Coronavirus) का ग्रहण लग चुका है. कोरोना वायरस के कारण बहनों का अब अपने भाइयों के यहां जाना दुश्वार हो गया है.

वहीं इस महामारी की वजह से जहां कुछ मार्केट बंद है और लोग बाहर निकल कर शॉपिंग करने से परहेज कर रहे हैं तो दूसरी ओर ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट की इस वक़्त चांदी है. अब ऑनलाइन डिलीवरी के जरिये ही बहनें अपनी राखी से लेकर मिठाइयां और तोहफे तक भिजवा पा रही हैं. इसके अलावा ऑनलाइन में काफी प्यारे-प्यारे गिफ्ट्स भी अवेलेबल हैं. जिसमें सबसे ज्यादा ख़ास है राखी पैकेज, इस पैकेज में राखी, चावल-रोली, स्वीट्स के साथ ही ड्राई फ्रूट्स और चाकलेट्स भी होती हैं.

कोरोना से प्रभावित हुआ राखी का मार्केट –
कोरोना की मार से राखी का बाजार ठंडा पड़ गया है। व्यवसायियों के अनुसार हर साल राखी पर भरी मुनाफा और बेहतरीन बिक्री होती है फिर चाहे बात राखी की हो या मिठाइयों की लेकिन इस बार ऐस कुछ भी नहीं हैं.

जहां एक ओर सभी ऑनलाइन मार्केट के ज़रिये अपना त्यौहार मना रहे हैं वहीं छोटे दुकानदार और फेरी वालों को बहुत परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. उनके लिए तो जैसे ये त्यौहार फ़ीका ही पड़ गया है. एक दुकानदार ने बताया कि अब रक्षाबंधन में महज़ एक दिन ही बचा हैं, लेकिन अबतक दो हजार रुपये की भी राखी नहीं बिकी है. अगर स्थिति यही रही तो भरी नुक्सान होगा.

कोरोना की वजह से इस त्यौहार में माल भी ज्यादा नहीं मंगाया गया है, जो मंगाया है वो भी बिक नहीं रहा है. इस बीमारी के डर से कस्टमर ऑनलाइन शॉपिंग पर ज्यादा भरोसा जता रहे हैं जिसकी वजह से ऑनलाइन खरीद में तेजी आई है. लगभग 70 फीसदी ग्राहक ऐसे है जो ऑनलाइन घर बैठे ही खरीदारी कर रहे है. वहीं, भाई भी अपनी बहनों के लिए ऑनलाइन उपहार भेजने की तैयारी में है.

लेखपूजा चौहान

Share If You Liked

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *