Contact Information

Sector 19, Noida, Uttar Pradesh

We Are Available 24/ 7. Call Now.

Lucknow : इस वक्त चल रहे चुनावी मौसम में चारों ओर से सियासत गरमा-गर्मी में है. सभी पार्टियों में कई फेर-बदल देखने को मिल रहे है. उत्तर-प्रदेश में विधानसभा चुनाव को लेकर भारतीय जनता पार्टी (BJP) और समाजवादी पार्टी (SP) में चल रहे घमासान के बीच समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) की बहू अपर्णा यादव (Aparna Yadav) बुधवार को भाजपा में शामिल हो गईं है. अपर्णा यादव का भाजपा ज्वाइन (Join) करना सपा के लिए किसी बड़े झटके से कम नहीं है.

आपको बता दें कि, भाजपा ज्वाइन करने के बाद अपर्णा यादव ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) और सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) की तारीफ की और धन्यवाद दिया. अपर्णा ने यह भी कहा कि राष्ट्रधर्म उनके लिए सबसे ऊपर है.

दिल्ली स्थित भाजपा मुख्यालय में समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता मुलायम सिंह यादव की बहू अपर्णा यादव उत्तर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य की मौजूदगी में पार्टी में शामिल हुईं.

पार्टी की सदस्यता लेने के बाद पत्रकारों ने अपर्णा यादव से सवाल किया कि क्या सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे, इसलिए आपने भाजपा में जाने का फैसला किया?

इस पर अपर्णा यादव ने कहा कि ऐसी बात नहीं है. मैं बस इतना कहना चाहती हूं कि मैंने हमेशा राष्ट्र को धर्म माना है. हमेशा राष्ट्र के लिए ही फैसला लिया है. यह मेरी नई पारी है.

मैं पीएम मोदी और सीएम योगी से बहुत प्रभावित हूं, उनकी नीतियां मुझे नैतिक रूप से भाती हैं. इसीलिए भाजपा ज्वाइन किया है.

भाजपा में शामिल होने के बाद अपर्णा यादव से पत्रकारों ने जब एक बार फिर पूछा कि क्या अखिलेश यादव, सपा राष्ट्रधर्म को नहीं निभाती?

इस पर अपर्णा ने कहा कि वह परिवार से विमुख होकर कोई बात नहीं कहना चाहतीं हैं.
उन्होंने कहा कि यह मेरा निजी विचार है कि पिछले पांच वर्षों में जिस तरह से उत्तर प्रदेश में सीएम योगी आदित्यनाथ ने काम किया है वह प्रशंसनीय है. उनकी योजनाएं प्रतिभाशाली है.

लखनऊ की कैंट सीट से चुनाव लड़ने के सवाल पर अपर्णा ने कहा कि वह किसी शर्त पर भाजपा में नहीं आई हैं. लोकतंत्र में सभी स्वतंत्र होकर अपनी विचारधारा से जुड़ सकते हैं. देश को बचाना है तो राष्ट्रवाद के साथ चलना है, भाजपा राष्ट्रवाद के लिए अग्रसर रही है. पार्टी जहां से सुनिश्चित करेगी मैं वहां से लड़ूंगी.

लेख – टीम वाच इंडिया नाउ

Share If You Liked

Leave a Reply

Your email address will not be published.