Fatehpur : फतेहपुर में थरियांव हाईवे (Highway) के पूर्वी बाईपास पर खड़ी पिकअप में सोमवार सुबह तेज रफ्तार क्रेटा (Creta) कार पीछे से टक्कर मारकर साइड से जा रहे कंटेनर में जाकर भिड़ गयी, जिससे पिकअप पलट जाने से एक वृद्ध की मौत हो गई, जबकि पारिवारिक 12 श्रद्धालु जख्मी हो गए. पिकअप सवार खखरेडू देवस्थान झंडा चढ़ाने जा रहे थे. पुलिस ने पिकअप में फंसे घायलों को एंबुलेंस से जिला अस्पताल भेजा. हादसे के बाद एक घंटे तक कानपुर-प्रयागराज हाईवे बाधित रहा.

थरियांव थाने के दिहुली निवासी हरिप्रसाद (Hari Prasad) उर्फ बब्बन लोधी की 16 वर्षीय बेटी अरुणा देवी (Aruna Devi) अक्सर बीमार रहती है. स्वजन ने खखरेडू स्थित एक देवस्थान में बेटी की बीमारी ठीक होने पर लाल झंडा चढ़ाने की मानता की थी. बीमारी ठीक होने पर हरिप्रसाद सोमवार सुबह साढ़े 8 बजे पिकअप में स्वजन व रिश्तेदारों को लेकर खखरेडू जा रहे थे.

थरियांव पूर्वी बाईपास पर पिकअप खड़ी करवाकर वह अपने छोटे भाई हरिशचंद्र (Harishchandra) को लेने के लिए उतर गए. तभी कानपुर से प्रयागराज की ओर तेज रफ्तार में जा रही क्रेटा कार खड़ी पिकअप में पीछे से टक्कर मारकर साइड से जा रहे कंटेनर में जा घुसी, जिससे खड़ी पिकअप पलट गई और उसमें सवार सभी श्रद्धालु दब गए. आनन-फानन ग्रामीण व पुलिस ने फंसे घायलों को बाहर निकाला तो हरिप्रसाद के बड़े भाई गयाप्रसाद लोधी (Gaya Prasad Lodhi) की मौत हो गई थी. सभी घायलों को अस्पताल भेजा गया.

थाना प्रभारी अमर सिंह रघुवंशी (Amar Singh Raghuvanshi) ने बताया कि, क्रेन से क्षतिग्रस्त कार, कंटेनर व पिकअप को किनारे करा दिया गया है. जिससे ज्यादा देर हाईवे बाधित नहीं रहा.

घायलों में अरुणा की हालत गंभीर

घायलों नीलम देवी, अरुणा देवी, किरन, सलोनी, वंदना, शिवानी, सहोदरा, होरीलाल, अर्चना, नंदनी, खुशबू व लक्ष्मी देवी को उपचार जिला अस्पताल में चल रहा है जिसमें हरिप्रसाद लोधी की बेटी अरुणा देवी की हालत गंभीर बताई जा रही है.

लेख – टीम वाच इंडिया नाउ